Belagavi

डिकेशी नहीं दिए धमकी उन्होंने ‘मिस्टर’ सम्बोधित किया है प्रदेशाध्यक्ष का किया वि. सतीश जारकिहोली ने समर्थन

Share

केपीसीसी कार्याध्यक्ष सतीश जारकिहोली ने प्रदेशाध्यक्ष डीके शिवकुमार को समर्थित करते हुए कहा कि, डीके शिवकुमार ने धमकी नहीं दी है.

बेलगाम के आरटीओ सर्कल निकट स्थित कांग्रेस भवन में बुलाई गई संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए केपीसीसी कार्य अध्यक्ष सतीश जर्किहोली ने कहा कि डीके शिवकुमार बेंगलुरु के कमिश्नर को मिस्टर ऐसे संबोधित किए हैं. लेकिन भाजपा नेता इसे धमकी समझ रहे हैं यह सही नहीं है. बेवजह कांग्रेसी नेताओं पर इल्जाम लगाना सही नहीं है. ऐसी घटनाओं को फिर से अंजाम ना मिले इसलिए न्यायिक जांच कराने की अपील की.

बेंगलुरु के केजे और डीजे हल्ली के दंगा फसाद को लेकर कांग्रेस से एक समिति गठित की गई है. यह समिति सरकार को सत्यांश रिपोर्ट सौंपने वाली है. अगर दंगा फसाद हुआ है तो उस पर रोकथाम लगाने का फर्क सरकार का है. भले ही हमारे में फूट रहेंगे. लेकिन सरकार के गृह मंत्री से ऐसे बयान देना सही नहीं है. सरकार अपनी जिम्मेदारी को जानकर काम करना चाहिए यह भारत पर पलटवार किया.

राजस्व मंत्री भी इससे पहले मौका ए बाढ़ का जायजा नहीं उठाए है. बेलगाम में भी हानि पहुंची है. बागलकोट बीजापुर जिले में भी बारिश और बाढ़ से हानि पहुंची है. बेलगाम में 4 मंत्रियों हैं लेकिन वह सिर्फ तहसील के लिए मर्यादित है.

बाढ़ और कोविड-19 की हालात को निभाने में केंद्र सरकार निधी मंजूर नहीं की है. कई बार सरकार के ध्यान में लाया गया है. अभी भी सरकार के ध्यान में ला रहे हैं. लेकिन मोदी सरकार को कर्नाटका पर प्यार ही नहीं है l
बेलगाम ग्रामीण कांग्रेस जिलाध्यक्ष विनय नावलगट्टी आदि मौजूद थे l